Sunday, July 14, 2024

/

‘जब…. यादों में खोए भारतीय चुनाव आयुक्त’

 belgaum

देश के चुनाव आयुक्त अशोक लवासा बेलगाम के राष्ट्रीय मिलिटरी स्कूल के पूर्व छात्र रहे हैं। उन्होंने यहाँ 1966 से 1973 तक पढ़ाई की है। जब भी वह बेलगाम आते हैं तो वह मिलिटरी स्कूल जरूर जाते हैं। स्थापना के उपलक्ष मे वह बेलगाम आये थे।

रविवार को जब उन्होंने स्कूल में स्थापना दिवस कार्यक्रम में शिरकत की उस दौरान स्कूल में शिक्षको ने उनको उनके जमाने की बनाई हुवी पेन्टिंग, किताब आदि दिखाई। इसके बाद छात्रों के साथ उन्होंने भोजन किया तब वह पुरानी यादों में खो गए। वह अपनी बचपन की यादें देखकर खुश हुए। उन्होंने छात्रों से कहा कि सफलता के लिए परिश्रम ही एकमात्र रास्ता है और कठोर श्रम ही हमे सफलता तक पहुंचता है।

AShok।lawasa
रविवार को बेलगाम राष्ट्रीय मिलिटरी स्कूल ने 74वां स्थापना दिवस मनाया। चुनाव आयुक्त अशोक लवासा मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद थे। देश के शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पण करने के बाद कार्यक्रम की शुरुवात की गई। लवासा ने स्कूल प्रांगण में बने स्मारक पर पुष्पांजली अर्पित की। इस अवसर पर लवासा ने स्कूल अध्यापकों से मुलाकात कर उन्हें धन्यवाद ज्ञापित किया।

उनके बचपन के स्कूल के साथी बेलगाम के उद्यमी भरत शानभाग बताते हैं कि लवासा उनके वर्ग के कप्तान थे। वह शांत स्वभाव के साथ मिलनसार थे। आज उनके साथ उनकी पत्नी भी मौजूद थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.